धनक देवी कारगांव में मलेरिया- डेंगू बुखार से दो ने दम तोड़ा

0
195

 

चंद्रपुर

जिले की जिवती तहसील के सुदूर कोलाम आदिवासी जनजाति बहुल धनक देवी कारगांव खुर्द गांव में मलेरिया और डेंगू की बीमारी से ग्रामीण बेहद परेशान है. 15 दिन पहले ही ग्रामीणों ने इसकी जानकारी गुटविकास अधिकारी और स्वास्थ्य कर्मचारियों को दी थी. लेकिन जरूरी उपाययोजना नहीं की गई है. इस लापरवाही के चलते कोलाम समाज बस्ती में रहने वाली कनिबाई (14 साल) और फोन कारगांव खुर्द की लक्ष्मी मडावी (12 साल) ने दम तोड़ दिया है.

इस लापरवाही की वजह से धनक देवी की रहने वाली लालीबाई आत्राम, रमेश आत्राम भी मौत से लड़ रहे है. उन्हें कोरपना के ग्रामीण रुग्णालय में भर्ती किया गया है. उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है. दोनों को अभी चंद्रपुर भेजा गया है. जिवती तहसील में स्वास्थ्य विभाग बेहद लापरवाही बरत रहा है. ये समय कोरोना के संक्रमण का होने से सरकार और प्रशासन स्वास्थ्य विभाग से बेहद गंभीर होकर काम करने की उम्मीद लगाए बैठे है. लेकिन विभाग लापरवाही बरत रहा है. जो आम लोगों के जान पर बनने लगी है.

राष्ट्रवादी कांग्रेस के आबिद अली ने मांग की है कि गांव में ही इलाज की व्यवस्था यदी की जाती है और स्वास्थ्य महकमा गंभीर होकर अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह करता है तो समस्याएं खुद ब खुद हल हो जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here