“मनोज अधिकारी हत्याकांड” : अब भी हत्याकांड की गुत्थी बरकरार एलसीबी को और दो दिन का मिला पीसीआर

0
117

 

चंद्रपुर :

जिले में बहुचर्चित कांग्रेस कार्यकर्ता मनोज अधिकारी हत्याकांड मामले में अब भी पुलिस की जांच में कुछ खास हासिल होता नजर नहीं आ रहा है. लोकल क्राइम ब्रांच के पास मामला सौंपने के बाद उम्मीद की जा रही है कि शायद अब जांच में तेजी आएगी. लेकिन अबतक इस मामले में वांछित लड़की की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो रही है? ये सवाल समझ से परे है.

बुधवार को पुलिस ने तीसरी बार गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. न्यायालय ने आरोपियों को 9 अक्टूबर तक
पुलिस हिरासत में रखने के आदेश दिए हैं. उल्लेखनीय है कि इस मामले में पहले 5 दिन के बाद में 2 दिन और अब 2 दिनों का पीसीआर मिला है. लेकिन इन 9 दिनों के बाद भी हत्याकांड के आरोपियों में शामिल लड़की खुली घुम रही है, जिस पर सभी आश्चर्य जता रहे है. हालांकि पुलिस सूत्र कहते है कि फरार युवती को पकड़ने के लिए दल भी गठित किया गया है.

उधर आरोपी पार्षद अजय सरकार का परिवार कह रहा है कि वह इस साजिश में शामिल नहीं है. पूरा समय वह घर पर ही था. रवींद्र ने उसका व युवती का नाम क्यों लिया? ऐसा सवाल भी पूछा जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here