परिवार के विरोध के डर से प्रेमी जोड़े ने नदी में लगाई छलांग 34 घंटों के बाद प्रेमी का शव मिला, प्रेमिका अब भी लापता

0
365

 

चंद्रपुर :

उन दोनों प्रेमी ने अन्य प्रेमी जोड़ो की तरह हसीन सपने सजाये थे. जब जब मिलते रहे, अपनी जिंदगी साथ गुजारने की कसमें भी खाते रहे. लेकिन जब उन्हें इस बात का अहसास हो गया कि परिजन इस रिश्ते का विरोध करेंगे तो…
इस प्रेमी जोड़े ने साथ साथ मरने का फैसला कर लिया. पैनगंगा नदी के पुलिया से तीन दिन पहले शुक्रवार को इस प्रेमी जोड़े ने छलांग लगा दी थी. इस घटना के करीब 34 घंटों के बाद शनिवार को पुलिस ने इस स्थान से सिर्फ युवक का शव बरामद कर लिया है. अब भी प्रेमिका का कुछ पता नहीं चल सका है.

मिली जानकारी के अनुसार, संयुक्त रूप से 2 बोट द्वारा की जा रही खोज मुहिम में सावली व गड़चिरोली पुलिस की टीम को शनिवार शाम 6 बजे के दौरान युवक का शव सावली तहसील के ग्राम निलसनी पेटगांव के पास नदी किनारे मिला. शव मौके से करीब 10 किमी दूरी पर पाया गया. उल्लेखनीय है कि आज तीसरे दिन खबर लिखे जाने तक लड़की का पता नहीं चला. पुलिस की संयुक्त दो टीमों द्वारा खोज मुहिम शुरू है.

ज्ञात हो कि, गड़चिरोली के रामनगर परिसर के युवक और वनविभाग कालोनी की एक लड़की ने शुक्रवार सुबह वैनगंगा नदी की पुलिया से छलांग लगा दी थी. कहा जा रहा है कि लड़की का परिवार इस प्रेम संबंध के खिलाफ में होने से लड़की घर से निकल गई. इस बीच शुक्रवार को दोनों ने नदी में छलांग लगा दी. इस दर्दनाक घटना की चर्चा परिसर में की जा रही है. हालाँकि लोग ये भी कह रहे है कि जब प्यार किया था तो विरोध का सामना भी डट कर कर लेते. कम से कम साथ में जी तो लेते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here