अस्पताल का बिल “25 हजार” सुनकर पति अस्पताल में बीवी और बच्ची को छोड़ कर हो गया गायब

450

वणी

मारेगांव तहासिल की एक महिला ने 26 अक्टूबर को गढ़वाल अस्पताल में एक सुंदर बच्ची को जन्म दिया. महिला की प्रसूति डॉ.लोढ़ा ने सीज़र ऑपरेशन कर करनी पड़ी.
यह देखकर महिला का पति अस्पताल के बिल का भुगतना करना पड़ेगा इस लिए वह पीड़ित महिला व बच्ची को अकेला छोड़कर भाग गया और अपना फ़ोन भी बंद कर दिया. जिसके बाद पीड़ित महिला को बड़ी तकलीफो का सामना करना पड़ा. पीड़ित महिला की जानकारी मिलने पर मारेगाँव के कुछ समाजसेवी युवा अस्पताल पहुचे और महिला की आपबीती सुनी पीड़ित महिला को मदत करने युवाओ ने चंदा जमा कर अस्पताल के बिल का भुगतान किया. इसी के साथ डॉ.लोढ़ा ने केवल दावा के 5 हजार रुपए लेकर मानवता का परिचय दिया. पीड़ित महिला का नाम शेवंता टेकाम है और वह मारेगांव तहासिल के सरटी निवासी है. उसके घर की परिस्थिति गंभीर होकर उसका पति हमाल का काम करता है.
अस्पताल का बिल 25 हजार होने की बात सुनकर पति अस्पताल में अपनी बीवी तथा बच्ची को अकेला छोड़ कर भाग गया.
पीड़ित महिला की जानकारी मिलने पर कलाम चौक के युवाओं ने मदत का हात बढ़ाया.
इस कार्य मे मारेगॉव के पत्रकार उमर शरीफ ने डॉ.लोढा से पीड़ित महिला के घर की स्थिति बताई.
जिसके बाद डॉ.लोढा ने केवल दवा के पैसे लेकर बाकी पैसे माफ कर दिए और महिला को घर पहुचाने एम्बुलेंस उपलब्ध कराई.
पीड़ित महिला की मदत करने वाले जुबैर पटेल, आतिफ शेख, सकलेन खान, शेख शहजाद, सोहेल शेख, अरबाज पटेल, उमर शरीफ, हमर शेख, इजरायल शेख, नूर खां पठान, सोनू शेख, शेख शाकिर, हरिदास किनाके, अंकित मेहता की लोगो द्वारा सराहना की जा रही है.