बीएसएफने किया दावा- तीन राज्यों से करेंगे नक्सलवाद का सफाया

0
245

रायपुर

सीमा सुरक्षा बल के एडीजी एसएल थाओसेन शुक्रवार को छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे। बीएसएफ के एडीजी ने नया रायपुर स्थित बीएसएफ मुख्यालय में पत्रकारवार्ता में छत्तीसगढ़ सहित ओडिशा और महाराष्ट्र में अभियान चलाकर नक्सलियों का उन्मूलन करने का दावा किया है। साथ ही अधिकारी ने बीएसएफ की सक्रियता के कारण तीनों राज्यों में नक्सली वारदातों में कमी आने का दावा किया है। बीएसएफ के एडीजी के मुताबिक बीएसएफ के जवान कांकेर से लेकर ओडिशा, महाराष्ट्र में माओवादियों के त्रिकोणीय जंक्शन के सफाया करने में लगे हैं। अधिकारी के अनुसार बीएसएफ की मदद से नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर पुल, पुलिया के निर्माण करने के साथ लगातार मोबाइल टॉवर लगाने का काम किया जा रहा है। बीएसएफ के अधिकारी के मुताबिक राज्य के हिंसाग्रस्त नक्सल प्रभावित क्षेत्र में बीएसएफ के 10 हजार से ज्यादा जवान वर्ष 2009 से मुस्तैदी के साथ नक्सली हिंसा का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। साथ ही केंद्रीय सुरक्षा बलों के साथ मिलकर लगातार ऑपरेशन चला रहे हैं।

कोर एरिया में ऑपरेशन

बीएसएफ अफसर के मुताबिक उनके जवान कोर एरिया को टारगेट में लेकर आपरेशन चला रहे हैं। लगातार ऑपरेशन चलाने के कारण कांकेर जिले में उन्हें लगातार सफलता मिल रही है। अधिकारी के अनुसार बीसएफ की तैनाती के बाद अब तक 1 हजार 99 आपरेशन चलाए गए हैं। ऑपरेशन में 14 माओवादियों को मार गिराया गया। साथ ही 89 माओवादियों को सरेंडर कराने में उन्हें सफलता मिली है।

बीएसएफ अफसर के अनुसार जवानों की सर्चिंग में 437 आईईडी, 338 किलो विस्फोटक, 337 डेटोनेटर तथा 623 हथियार जब्त किए गए हैं। अफसर के अनुसार कमजोर होते नक्सली अपनी मजबूती दिखाने कांकेर के साथ ओडिशा के मलकानगिरी, महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में त्रिकोणीय संगठन बनाकर अपनी मजबूती दिखाने की कोशिश कर रहे हैं।

एक दिसंबर को स्थापना दिवस =

बीएसएफ एडीजी ने बताया कि छत्तीसगढ़ के रायपुर में 1 दिसंबर को बीएसएफ का स्थापना दिवस मनाया जाएगा। अफसर के अनुसार राज्य के लोगों ने पुलिस स्थापना दिवस का लुत्फ उठाया है, लेकिन इस बार उन्हें बीएसएफ का स्थापना दिवस भी देखने को मिलेगा। इसका आयोजन बीएसएफ के कमांड हेडक्वार्टर में किया जाएगा। इस दौरान राज्य पुलिस और सभी फोर्स के अफसरों के साथ ही उनके परिवार वालों को बुलाया जाएगा। कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए स्थापना दिवस को सादगी के साथ मनाने का संकल्प लेने की बात अफसर ने कही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here