सांस रोकने से हुई थीं डॉ. शीतल आमटे की मौत , पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में हुआ उजागर

0
376

महारोगी सेवा समिति वरोरा की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. शीतल आमटे करजगी ने 30 नवंबर को आत्महत्या की थी. उनकी आत्महत्या की गुत्थी सुलझने का नाम नहीं ले रही है. पुलिस इस हाई प्रोफाइल मामले में बात कहने से डर रही है. एक माह के बाद अब पोस्ट मार्टम रिपोर्ट उजागर हुई है.

वरोरा (चंद्रपुर) : डॉ. शीतल आमटे की पोस्ट मार्टम रिपोर्ट सामने आई है. इसके अनुसार डॉ. शीतल की मौत सांस रोकने से हुई है. आज उनकी मौत को एक माह पूरा हो गया है.

महारोगी सेवा समिति की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. शीतल आमटे करजगी ने पिछले माह में आत्महत्या की थी. उनके रूम में जहरीली दवा और इंजेक्शन मिला था. चंदपुर के जिला अस्पताल में चार मेडिकल ऑफिसर की उपस्थिती में पोस्ट मार्टम किया गया. नागपुर की लैब में भेजे गए नमूने की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here